Posts By :

admin

150 150 admin

जैन धर्म के प्रवर्तक कौन?

जैन धर्म के प्रवर्तक कौन? Who founded Jainism? जैन धर्म एक ऐसा धर्म है जो अनादि काल से चलता आ रहा है। जैन धर्म की बुनियाद किसने और कब रखी?…

read more
150 150 admin

बीमारी में कर्म और दवाई का योगदान

बीमारी में कर्म और दवाई का योगदान Contribution of karma and medicine on the disease जब इंसान के पाप उदय होते हैं तब वे बीमार पड़ते हैं और तब इंसान…

read more
150 150 admin

धार्मिक नहीं धर्मात्मा बने।

धार्मिक नहीं धर्मात्मा बने।   हमारे संत कहते हैं कि – धर्म घण्टे दो घण्टे की प्रक्रिया नहीं है। पूरे जीवन में रूपान्तरण का प्रयोग है। वह प्रयोग करें। धार्मिक…

read more
150 150 admin

आत्मा बंधन में कैसे आई?

आत्मा बंधन में कैसे आई? How the soul came into bonding? ब्रह्मविद्या अर्थात् स्वयं आत्मा को पहचानना। समस्त उपनिषद इसी बात को बार बार दोहराते है कि आत्मा को पहिचानो…

read more
150 150 admin

ध्यान के लाभ

ध्यान के लाभ Advantages of meditation? ध्यान या मैडिटेशन एक ऐसी मानसिक अवस्था है जिसमे व्यक्ति अपने दिमाग और मन को एकाग्रचित करने की कोशिश करता है। सुनिए मनि श्री…

read more