पाप कर्म के उदय में क्या करें?
150 150 admin

पाप कर्म के उदय में क्या करें? What do do during odds? मनुष्य जीवन पुण्य कर्म के उदय से मिलता है। कर्म करने के साथ उसके फल को भी समझना चाहिए। तभी हम अच्छे-बुरे, पाप-पुण्य की पहचान कर सकते हैं। सुनिए मुनि श्री प्रमाण सागर द्वारा पाप कर्म के उदय में क्या करें?

परिग्रह को कैसे कम करें?
150 150 admin

परिग्रह को कैसे कम करें? How to reduce Parigraha? किसी भी वस्तु के प्रति मूर्च्छा का भाव ही परिग्रह है। मूर्च्छा परिग्रह है। परिग्रह का अर्थ है संग्रह और अपरिग्रह का अर्थ है त्याग। किसी वस्तु का अनावश्यक संग्रह न करके उसका जन-कल्याण हेतु वितरण कर देना। परिग्रह मनुष्य को अहंकार एवं मोहरूपी अँधेरे के…

क्या जीवन में घटनाएँ पाप-पुण्य के कारण होती है?
150 150 admin

क्या जीवन में घटनाएँ पाप-पुण्य के कारण होती है? Role of Paap and Punya in our life. हमारे जीवन में रोज नयी घटनाएं घटती है, प्राय जब भी कुछ होता है लोग कहते हैं की ये हमारे पाप और पूण्य के कारण हुआ है – आएये जानते हैं मुनि श्री प्रमाण सागर जी से क्या…

पुण्य-पाप के स्तर
150 150 admin

पुण्य-पाप के स्तर Levels of virtues and sins जीवन में हम कर्मों का फल पुण्य एवं पाप के रूप में भोगते हैं। पुण्य वह विशेष ऊर्जा अथवा विकसित क्षमता है, जो भक्तिभाव से धार्मिक जीवनशैली का अनुसरण करने से प्राप्त होती है। पाप बुरे कर्म का फल है, जिससे हमें दुख मिलता है । सुनिए…

अहंकार को कम करने के तरीके
150 150 admin

अहंकार को कम करने के तरीके Ways to reduce Arrogance अहंकार के बारे में आपने बहुत सी बाते सुनी होंगी कि अहंकार नहीं करना चाहिए औउर ये भी सुना होगा बिना अहंकार को खत्म किए बिना आप आत्मसुख की प्राप्ति नहीं कर सकते लेकिन सवाल ये उठता है की इस अहंकार को कम कैसे किया…

पाप के साथ पैसा कमाना अनुचित
150 150 admin

पाप के साथ पैसा कमाना अनुचित Don’t earn money with unfair means धन उपार्जन बिना पाप के नही हो सकता है, हर उस कार्य में पाप होता है जिसमे धन का उपार्जन होता है लेकिन क्या पाप के साथ किये हुए कार्य से पैसा कमाना उचित है क्या? – सुनिए हमे किस तरह से धन…

पापी से धर्मी कैसे बनें ?
150 150 admin

पापी से धर्मी कैसे बनें ? How to be safe from evil people? पाप का रास्ता त्यागकर धर्म कैसे अपनाएं? क्या एक पापी भी धर्मी बन सकता है, कैसे जानें मुनि श्री प्रमाण सागर जी से।

पुण्य पाप का मुल्यांकन कैसे करें
150 150 admin

पुण्य पाप का मुल्यांकन कैसे करें How to evaluate Punya and Paap? हम दिन में कई पाप के कार्य तोह कई पुन्य के कार्य करते हैं लेकिन हम इस चीज में असमर्थ हो जाते है की हमने पाप कितना किया और पुन्य कितना किया? क्या हम अपने पाप और पुण्य का मुल्यांकन कर सकते हैं…

लोभ सबसे बड़ा पाप क्यों?
150 150 admin

लोभ सबसे बड़ा पाप क्यों? Greed- the biggest sin लोभ ही मनुष्य को सद्मार्ग से भटका देता है और यह पाप का सबसे बड़ा कारण है और शास्त्रो मे लोभ को संसार में सबसे बड़ा पाप कहा गया है। सुनिए मुनि श्री प्रमाण सागर द्वारा लोभ सबसे बड़ा पाप क्यों?”

चुगलखोरी महा पाप
150 150 admin

चुगलखोरी महा पाप Backbiting : a big sin! चुगली करने की क्रिया को पाप नहीं बल्कि महापाप कहा गया गया है । चुगली करन लोगों की दिनचर्या का अंग है। यह एक गंभीर है और इस पाप करते रहने से एक इंसान को उद्धार नहीं मिलता। सुनिए मुनि श्री प्रमाण सागर द्वारा चुगलखोरी महा पाप।