cw-jainism

150 150 admin

मूर्ति तो जड़ पदार्थ है फिर मूर्ति पूजा क्यों की जाती है?

शंका मूर्ति पूजा क्यों की जाती है, जबकि मूर्तियाँ तो जड़ पदार्थ हैं? जैन धर्म का सबसे प्राचीन ग्रन्थ कौन सा है, किस लिपि में है और कहाँ उपलब्ध है?…

read more
150 150 admin

मंदिरों में जमा अतिरिक्त राशि का सदुपयोग कहाँ करें?

शंका कई मन्दिरों के पास अपार धन-संपदा है और कई छोटे गाँवों में या आसपास में मन्दिर जीर्ण-शीर्ण अवस्था में हैं, वहाँ कोई पूजा-प्रक्षाल करने वाला नहीं है। इसके बारे…

read more
150 150 admin

जैन धर्म में पितृ-दोष का क्या महत्त्व है?

शंका जैन धर्म में पितृ-दोष का क्या महत्त्व है? विडियो समाधान जैन धर्म के अनुसार कोई पितृ-दोष नहीं होता।  जैन धर्म के अनुसार किसी को श्राद्ध-तर्पण की ज़रूरत नहीं है।…

read more
150 150 admin

‘गारव’ शब्द का क्या अर्थ है?

शंका प्रतिक्रमण में एक शब्द आता है- गारव! इस शब्द का अर्थ बताइए? विडियो समाधान गारव का मतलब अभिमान! रस गारव, रिद्धि गारव और सात गारव के रूप में तीन…

read more
150 150 admin

क्या तत्त्वार्थ सूत्र के सातवें अध्याय को शुभाश्रव के रूप में स्वीकारना सही है?

शंका तत्त्वार्थ सूत्र का सातवाँ अध्याय शुभोपयोग का वर्णन करता है। इससे शायद शुभाश्रव का वर्णन किया गया है। जबकि व्रत, संवर और निर्जरा के कारण होते हैं। तो फिर…

read more