अपेक्षा है भ्रष्टाचार का कारण

150 150 admin

अपेक्षा है भ्रष्टाचार का कारण
Expectation is cause of corruption

मनुष्य के हृदय में असंतोष का भाव जाग्रत होना अथवा संतोष की अपरिपक्वता ही लालच का प्रतीक है। असंतोष के कारण उत्पन्न लालच का भाव ही बुराई के मार्ग पर खिंच लाता है और अनवरत उसे भ्रष्टाचार की ओर खींचता है। सुनिए मुनि श्री प्रमाण सागर द्वारा अपेक्षा है भ्रष्टाचार का कारण।

Share with family/friends:

Leave a Reply