मोबाइल का सही प्रयोग

261 261 admin

मोबाइल का सही प्रयोग

आज 21वीं सदी के युग में मोबाइल फोन सबसे उपयोगी और जरूरी वस्तु हो गई है। आज के समय में हर दूसरे व्यक्ति के पास मोबाइल फ़ोन है। पहले जब मोबाइल नहीं हुआ करते थे तब हम किसी स्थान पर संदेश भेजने के लिये चिठ्ठियों का प्रयोग करते थे पर आज इन सब की जगह मोबाइल फ़ोन ने ले ली है और इसका उपयोग इस आधुनिक युग में काफी तेजी से बढ़ रहा है।

मोबाइल के दुष्परिणाम

ऐसा कहा जाता है कि अति हर चीज की अच्छी नहीं होती, पर आज के आधुनिक युग में मोबाइल का अधिकतम उयोग हो रहा है जिसके फलस्वरूप कई दुष्परिणामों का सामना करना पड़ रहा है। आज का युवा वर्ग प्रतिदिन अपना आधे से ज्यादा समय मोबाइल का प्रयोग करने में बर्बाद कर देता है। लगातार मोबाइल फ़ोन के उपयोग से कई शारीरिक संबंधी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। मोबाइल फ़ोन को अब एक प्रकार की लत के रूप में देखा जाने लगा है जिसे छुड़ा पाना काफी मुश्किल है। मोबाइल फ़ोन का सबसे बड़ा दुष्परिणाम इसका गलत तरीके से उपयोग करना है। इसके अत्यधिक प्रयोग के कारण लोग अपने परिवार के सदस्यों से दूर होते जा रहे हैं।

मोबाइल का सही प्रयोग

हमे प्रारंभ से ही मोबाइल के प्रयोग प्रति जागरूक होना चाहिए कि मोबाइल का प्रयोग कहाँ, कब और कितना करें। मोबाइल एक सुविधा है न कि हमारे जीवन का अंग और मोबाइल का अविष्कार हमारी सुविधा की दृष्टि से किया है| लेकिन अब यह लोगों के जीवन का अंग बन गया है। वस्तुतः मोबाइल का उपयोग तब है जब आप अस्थिर अवस्था में हो,अगर आप स्थिर अवस्था में हो तो मोबाइल का क्या उपयोग है इसके प्रति हमारे अंदर जागरूकता होना चाहिये।

Edited by Utkarsh Jain, Sagar

Leave a Reply